जानिए गोरखपुर महोत्सव में क्या होगा खास,कौन कौन से कलाकार धमाल मचाने आ रहे हैं ?

गोरखपुर। शहर के लोगों का इंतजार खत्म होने वाला है,क्योंकि गोरखपुर महोत्सव की तैयारियां लगभग पूरी कर ली गयी हैं। तीन दिनों चलने वाले गोरखपुर महोत्सव में इस बार बहुत कुछ होने वाला है। जहां 11-13 जनवरी तक बॉलीवुड कलाकार गोरखपुर यूनिवर्सिटी में धूम मचाएंगे। वहीं नुमाइश ग्राउंड में विभिन्न प्रकार के उत्पादों और सरकारी योजनायों की प्रदर्शनी लगायी जाएंगी । यही नही चंपा देवी पार्क से लेकर नौकायन केंद्र तक पैराग्लाइडिंग और पैरा मोटरिंग के एडवेंचर स्पोर्ट्स का लुत्फ गोरखपुरी उठा सकेंगे।

गोरखपुर महोत्सव स्थानीय कला पर होगा केंद्रित

उक्त जानकारी गोरखपुर महोत्सव समिति के अध्यक्ष और गोरखपुर मंडल के कमिश्नर जयंत नार्लीकर ने बुधवार को पत्रकार वार्ता में दी। उन्होंने बताया कि 11 जनवरी को गोरखपुर महोत्सव का शुभारंभ उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल द्वारा किया जाएगा।और 13 जनवरी को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के उपस्थिती में समापन समारोह सम्पन्न किया जाएगा। उन्होंने आगे बताया की महोत्सव से पर्यटन व सांस्कृतिक गतिविधियों को बढ़ावा मिलेगा ही स्थानीय लोगों को भी एक ही जगह पर कला, संस्कृति, शिल्प, व्यंजन, गीत-संगीत, योग, एडवेंचर स्पोर्ट्स, खेल,नौकायन के साथ साथ शासन के योजनाओं बारे में भी जानकारी मिलेगी।

स्थानीय कला व संगीत को प्रोत्साहित करने के लिए कलाकारों को मुख्य मंच पर पर्याप्त समय दिया जाएगा। उद्घाटन समारोह के दिन मशहूर कत्थक नृतिका जयंती माला द्वारा कत्थक की प्रस्तुति की जाएगी और विभिन्न स्कूलों के प्रतिभागी बच्चों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी किए जाएंगे। राष्ट्रीय व स्थानीय कलाकारों के संगम से की प्रस्तुति आकर्षण का केंद्र होगी।

13 जनवरी को आयोजित होने वाली बॉलीवुड नाइट में सोनू निगम, भजन गायिका अनुराधा पौंडवाल, कामेडियन राजू श्रीवास्तव और सदर सांसद और एक्टर रवि किशन के द्वारा पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी बाजपेयी की कविताओं को प्रस्तुत किया जाएगा। इनके अलावा नेहा बनर्जी द्वारा कत्थक नृत्य व दशावतार पर नृत्य नाटिका, गीतांजलि शर्मा के मयूर नृत्य, सैक्सोफोन वादक एसएस सुब्बालक्ष्मी भी अपने कला से सबको मंत्रमुग्ध करेंगे ।

गोरखपुर महोत्सव में 11-17 जनवरी तक विश्वविद्यालय प्रागंण में शिल्प व सरस मेले का आयोजन किया जाएगा। इसमें 100 हस्तशिल्प स्टाल, वाणिज्यिक स्टाल आदि के माध्यम से हस्त शिल्पियों व उनकी वाणिज्यिक गतिविधियों का भी प्रचार-प्रसार किया जाएगा। इसी दौरान व्यापार मेला व आटोमोबाइल एक्सपो का आयोजन भी प्रस्तावित है।

महोत्सव में उद्यमियों व प्रायोजकों को भी प्रचार-प्रसार के लिए स्टाल उपलब्ध कराया जा रहा है। फूड स्टाल, पुस्तक मेला, गेम जोन और विभागीय प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी। विश्वविद्यालय प्रांगण में ही छात्र-छात्राओं के बौद्धिक विकास के लिए विज्ञान प्रदर्शनी का भी आयोजन किया जाएगा।
तो हो जाइये तैयार क्योंकि होने वाला है गोरखपुर महोत्सव में धमाल ।
अगर आपको ये खबर अच्छा लगा तो हमारे पेज को लाइक करना न भूलें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here