रविवार को यूपी में उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (UPTET) आयोजित की की गई थी। इसमें 21 लाख अभ्यर्थी शामिल हुए थें । इस परीक्षा के लिए न सिर्फ उत्तर प्रदेश बल्कि कई राज्यों के अलग-अलग जिलों से अभ्यर्थी परीक्षा केंद्रों पर एकत्रित हुए थे और प्रथम पाली का परीक्षा दे रहे थें तभी ख़बर आई की हर बार की तरह इस बार भी प्रदेश में पेपर लीक हो गया जिसके कारन परीक्षा रद्द कर दिया गया है । ये घटना छात्रों के लिए बेहद दुखद था. तमाम दोवों के बाद भी प्रदेश सरकार एक बार फ़िर किसी परीक्षा को सुरक्षित तरीके से कराने में नाकाम साबित हुई।

हालांकि, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए दोषियों पर गैंगस्टर एक्ट (gangster act) और उनकी संपत्ति जब्त करने की बात तक कह दी है ।

योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की कमान मार्च 2017 में संभालीं तब से लेकर अब तक तमाम सख्तियों के दावों के वावजूद कई बार परीक्षा पेपर लीक हुए जिसके वजह से लाखों छात्रों को निराशा हाथ लगी । उस वक़्त से लेकर आज तक राज्य के सीएम यह कहते हुए नहीं थकते हैं कि हम पारदर्शी व सुरक्षित तरीके से परीक्षाओं का आयोजन कर रहे हैं। मग़र, इस बात में कितनी सच्चाई है। यह बात सबके सामने है।

सता सँभालने से से लेकर अभी तक दर्जनों भर्तियों व परीक्षाओं के पेपर लीक हो चुके हैं। जिसमें शिक्षा विभाग से लेकर पुलिस भर्ती परीक्षा , स्वास्थ्य और बिजली विभाग जैसे अन्य कई महत्वपूर्ण विभाग की परीक्षाएं शामिल हैं।

योगी सरकार के दौरान लीक हुए पेपर के कुछ महत्वपूर्ण परीक्षा की सूची

  • 2017:- सब-इंस्पेक्टर पेपर लीक (sub-inspector paper leak)
  • 2018:- UPPCL पेपर लीक (UPPCL paper leak)
  • 2018:- UP पुलिस का पेपर लीक (UP Police paper leak)
  • 2018:- अधीनस्थ सेवा पेपर लीक (subordinate services paper leak)
  • 2018:- स्वास्थ्य विभाग प्रोन्नत पेपर लीक (health department promoted paper leak)
  • 2018:- नलकूप आपरेटर पेपर लीक
  • 41520 सिपाही भर्ती पेपर लीक
  • 2020:- 69000 शिक्षक भर्ती पेपर लीक (69000 teacher recruitment paper leak)
  • 2021:- बीएड परीक्षा पेपर लीक (BEd exam paper leak)
  • 2021- PET पेपर लीक (PET paper leak)
  • अक्टूबर 2021:- सहायता प्राप्त स्कूल शिक्षक/प्रधानाचार्य पेपर लीक
  • अगस्त 2021:- UP TGT पेपर लीक
  • NEET पेपर लीक
  • नवम्बर 2021:- UP TET पेपर लीक (UP TET paper leak)

अब ये सूची आपको हैरान कर देंगें क्यूंकि हर बार के पेपर लीक के बाद सरकार कड़े एक्शन लेते हुए दिखती है कुछ लोगों की गिरफ्तारी भी हो जाती है लेकिन हर बार कोई सिस्टम का लूप होल देखकर छात्रों के भविष्य से खेलने को तैयार हो जाता है .

देखिये पेपर लीक होने की बाद छत्रों ने क्या बोला

एक महीने बाद दोबारा होगी UPTET परीक्षा

पेपर लीक कैसे हुआ इसके लिए यूपीएसटीएस जांच (UPSTS will investigate Exam) करेगी यूपीटीईटी का पेपर लीक होने के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर के एक कार्यक्रम में बताया कि एक महीने बाद दोबारा परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी। इसके लिए छात्रों को कोई शुल्क नहीं देना पड़ेगा। वह उत्तर प्रदेश परिवहन विभाग की बसों पर अपना एडमिट कार्ड दिखाकर मुफ़्त में परीक्षा देने भी जा सकते हैं। साथ ही, उन्होंने दोषियों पर गैंगस्टर एक्ट लगाने की बात कही। इसके अलावा उनकी संपत्तियों को भी ज़ब्त करने को कहा। अब तक 23 लोगों को किया गया गिरफ्तार बेसिक शिक्षा मंत्री डॉ सतीश द्विवेदी ने कहा कि पेपर लीक की खबर के बाद UPTET 2021 की परीक्षा रद्द कर दी गई है। यूपी सरकार एक महीने के भीतर फिर से परीक्षा आयोजित करेगी। यूपी एसटीएफ मामले की जांच करेगी। वहीं, उत्तर प्रदेश के एडीजी (क़ानून-व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने बताया कि “प्रदेश के अलग-अलग इलाकों से हमने अब तक कई लोगों को गिरफ़्तार किया है जो बड़े बड़े पदों पर आसीत हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here